भारतीय किसान संघ 19 दिसंबर को दिल्ली में करेंगा प्रदर्शन

 वाराणसी : गुरूवार,1 दिसम्बर 2022,भारतीय किसान संघ 19 दिसंबर को दिल्ली में प्रदर्शन करेंगा।इसमें देशभर से किसान शामिल होंगे। किसान अपनी मांगें सरकार के सामने रखेंगे। इनमें मुख्य मांग ये है कि किसानों को लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य मिलना चाहिए। फिलहाल किसानों को सिर्फ समर्थन मूल्य मिलता है और समर्थन मूल्य पर भी देशभर में केवल 15-18% ही अनाज खरीदा जा रहा है। जबकि 80% अनाज बाजार में ही रह जाता है। इससे किसानों को सबसे ज्यादा नुकसान होता है। इसके अलावा किसान खेती के लिए जो ट्रैक्टर-ट्रॉली और बाकी उपकरण खरीदते हैं उस पर से जीएसटी खत्म की जानी चाहिए। सम्मान निधि के नाम पर केंद्र सरकार की तरफ से 2 हजार राशि दी जाती है, जिसे बढ़ाकर 10 हजार किया जाना चाहिए। वहीं, जंगली जानवरों की वजह से किसानों को खासा नुकसान उठाना पड़ता है। जानवर खेतों में घुसकर फसलों को बर्बाद कर देते हैं। हम सरकार से मांग करेंगे की जंगली जानवरों से हो रहे नुकसान की भरपाई सरकार करें और जानवरों को उनके जंगलों में छोड़ा जाए।
 साथ ही पशुपालकों को प्रति माह 900 रुपए प्रति गाय प्रोत्साहन राशि दी जाए।सरकार द्वारा किसानों को दिए जाने वाले सभी प्रकार के अनुदान सीधे किसानों के खाते में दिए जाए।कृषि बीमा पॉलिसी को सरल कर किसान हितैषी बनाया जाए।देश में कृषि उत्पाद को देखते हुए आयात-निर्यात नीति को बनाया जाए।
 दिल्ली के रामलीला मैदान में आगामी 19 दिसम्बर को आयोजित किसान गर्जना रैली में किसानों को आत्म निर्भर बनाने के लिए भारतीय किसान संघ की सरकार से चार प्रमुख मांग है। लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य दिलाने, कृषि आदानो को जीएसटी के दायरे से बाहर रखने,किसान सम्मान निधि बढ़ाने के साथ प्रत्येक किसान को मिले यह सुनिश्चित करने, केन्द्र सरकार सभी प्रकार के जीएम,बीटी व जीएम सरसों के अनुमति को तत्काल वापस ले प्रमुख मांग है। इसके अलावा फसल अवशेष जलाने पर किसान पर हो रही कार्यवाही व आर्थिक दण्ड समाप्त करने की मांग भी की है।

 
 
Advertisment
 
Important Links
 
Important RSS Feed
MP Info RSS
Swatantra Khat RSS
 
वीडियो गेलरी




More
 
फोटो गेलरी
More
 
हमारे बारे में हमसे संपर्क करें      विज्ञापन दरें      आपके सुझाव      संस्थान      गोपनीयता और कुकीज नीति    
Copyright © 2011-2022 Swatantra Khat