किसान महापंचायत में 27 को भारत बंद का ऐलान

मुजफ्फरनगर: रविवार, 5 सितंबर 2021,आज उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत हुई।  इसमें देश भर के किसानों ने भाग लिया। अलग-अलग राज्यों के किसान संगठनों से जुड़े किसान मुजफ्फरनगर पहुंचे। इस किसान महापंचायत में किसानों ने मोदी सरकार से कृषि कानून वापस लेने एवं MSP पर कानून बनाने की मांग की। महापंचायत में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ अपने आंदोलन की रणनीति नए सिरे से तैयार करने का ऐलान किया है।  संयुक्त किसान मोर्चा ने उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में महापंचायत के साथ ही मिशन उत्तर प्रदेश की शुरुआत हुई है।अब किसान यूपी चुनाव में गांव-गांव जाकर बीजेपी के खिलाफ प्रचार करेंगे। महापंचायत के मंच से 27 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया गया है। इसे आज तक का सबसे बड़ा किसान सम्मेलन माना जा रहा है। अगर इस महापंचायत के माध्यम से किसान संगठन उत्तर प्रदेश के लोगों को अपने साथ चलाने में सफल हो जाते हैं तो भाजपा को चुनाव में इसका भारी नुकसान हो सकता है।


मुजफ्फरनगर की धरती से सीएम योगी और प्रधानमंत्री मोदी को चेतावनी 


मुजफ्फरनगर महापंचायत के मंच से किसान नेताओं राकेश टिकैत, योगेंद्र यादव,बलवीर राजेवाल समेत कई किसान नेताओं ने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी अदित्यनाथको चेतावनी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ओर मुख्यमंत्री किसानों को हलके में लेने की भूल कर रहे हैं। इसका खामियाजा आने वाले चुनाव में भुगतना पड़ेगा। 
योगेंद्र यादव बोले - योगी नहीं लुटेरा है
यूपी के मुख्यमंत्री योगी पर निशाना साधते हुए योगेंद्र यादव ने कहा कि योगी नहीं लुटेरा है। ये लोग देश भक्त नहीं, देशद्रोही हैं। योगेंद्र यादव ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पांच साल में सरकार ने पांच बड़े पाप किए हैं। इनमें पहला, कर्ज माफी के नाम पर सरकार ने ढोंग किया। दूसरा, सरकार ने पिछले 4 साल में ना गन्ने का दाम बढ़ाया और ना किसानों को पैसा दिया। तीसरा, यूपी सरकार ने कहा था कि हम किसान का दाना-दाना खरीदेंगे, लेकिन सरकार ने पूरी खरीद नहीं की। चौथा, सरकार ने कहा था हम फसल बीमा लेकर आएंगे, लेकिन हम दो हमारे दो की सरकार ने किसान फसल बीमा के नाम पर ढाई हजार करोड़ रुपए किसान से लुटे गए। और पांचवां, सरकार ने जात-पात के नाम पर लोगों को बांटा और खून बहाया। हमारा एक ही नारा  है -तुम तोड़ोगे हम जोड़ेगे। अब  हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, हम आपस में भाई-भाई।देश  भाजपा वालों के बहकावे में नहीं आने वाला है । हमारी कोई जाति नहीं है, हमारा कोई धर्म नहीं है। राज्य नहीं है। हमारा नाम, जाति, धर्म, राज्य सब कुछ किसान हैं। 

 
 
Advertisment
 
Important Links
 
Important RSS Feed
MP Info RSS
Swatantra Khat RSS
 
वीडियो गेलरी




More
 
फोटो गेलरी
More
 
हमारे बारे में हमसे संपर्क करें      विज्ञापन दरें      आपके सुझाव      संस्थान      गोपनीयता और कुकीज नीति    
Copyright © 2011-2022 Swatantra Khat