पंचायत चुनाव - यूपी बीजेपी ने पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर की पत्नी की उम्मीदवारी रद्द की

लखनऊ। रविवार, 11 अप्रैल 2021,  बीजेपी ने पंचायत चुनाव में सजायाफ्ता पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर (Kuldeep Sengar) की पत्नी संगीता सेंगर की उम्मीदवारी रद्द कर दी है।  संगीता को उन्नाव जिले में जिला पंचायत सदस्य चुनाव के लिए बीजेपी की ओर से उम्मीदवार घोषित करने के चौथे दिन यह घटनाक्रम हुआ। 


पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने रविवार को एक बयान में कहा, ''उन्नाव जिले के वार्ड नंबर 22 में संगीता सेंगर का टिकट रद्द किया जाता है।''   उन्होंने कहा, संगीता सेंगर भाजपा की अधिकृत उम्मीदवार नहीं रहेंगी और उन्नाव में पार्टी के जिलाध्यक्ष से शीघ्र ही वहां से तीन नाम भेजने का आग्रह किया गया है। 


गौरतलब है कि सिंह ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए बृहस्पतिवार को जिला पंचायत सदस्य के अधिकृत उम्मीदवारों की जिले की सूची जारी की थी, जिसमें जिले के वार्ड संख्‍या 22 (फतेहपुर चौरासी तृतीय) से संगीता सेंगर को उम्मीदवार घोषित किया गया था. संगीता पूर्व में जिला पंचायत की अध्यक्ष रह चुकी हैं। संगीता सेंगर को उम्मीदवार बनाए जाने पर भगवा पार्टी की आलोचना करते हुए समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा था, ''भाजपा का दोहरा चरित्र है। एक तरफ भाजपा अपराधियों के खात्‍मे की बात करती है और दूसरी तरफ उनका महिमामंडन भी करती है। भाजपा के शासन में रहते अपराध खत्म नहीं हो सकता है। 


उल्लेखनीय है कि पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर को उन्नाव जिले में 17 वर्षीय एक किशोरी से दुष्कर्म मामले में दोषी करार देते हुए दिल्‍ली की तीस हजारी अदालत ने 20 दिसंबर 2019 को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। सेंगर को जिस समय यह सजा सुनाई गई थी, वह उन्नाव जिले के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक थे। सजा सुनाए जाने के बाद उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द कर दी गई थी। 

 
 
Advertisment
 
Important Links
 
Important RSS Feed
MP Info RSS
Swatantra Khat RSS
 
वीडियो गेलरी




More
 
फोटो गेलरी
More
 
हमारे बारे में हमसे संपर्क करें      विज्ञापन दरें      आपके सुझाव      संस्थान      गोपनीयता और कुकीज नीति    
Copyright © 2011-2022 Swatantra Khat