उत्तरप्रदेश में पत्रकार की हत्या : पत्रकार विक्रम जोशी की मौत

गाजियाबाद: बुधवार,22 जुलाई 2020, पत्रकार विक्रम जोशी की आज मौत हो गई। सोमवार रात बदमाशों ने जोशी को गोली मार दी थी। इस मामले में अब तक 9 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। प्रताप विहार चौकी के इंचार्ज राघवेंद्र सिंह को सस्पेंड किया गया है।आज बुधवार को उन्होनें अंतिम श्वास ली। पत्रकार के परिजनों का कहना है कि पुलिस ने सही समय पर कार्रवाई नहीं की। जब तक हत्या का मुख्य आरोपी नहीं पकड़ा जाता तब तक शव नहीं लेंगे

पत्रकार विक्रम जोशी ने अपनी भांजी से छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस में की थी। पत्रकार के परिजनों का आरोप है कि बदमाशों ने इसी बात का बदला लेने के लिए जोशी पर हमला कर दिया। इस मामले में पुलिस ने समय पर कार्रवाई नहीं की। जब तक मुख्य आरोपी नहीं पकड़ा जाता, तब तक शव नहीं लेंगे। जोशी सोमवार रात अपनी बेटियों के साथ बाइक से जा रहे थे। रास्ते में बदमाशों ने उन्हें रोककर मारपीट की और उनके सिर में गोली मार दी।

 
उत्तर प्रदेश में जंगलराज: कांग्रेस इस मामले में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया- गाजियाबाद एनसीआर में है। यहां कानून व्यवस्था का ये आलम है तो आप पूरे यूपी के हाल का अंदाजा लगा लीजिए। एक पत्रकार को इसलिए गोली मार दी गई, क्योंकि उन्होंने भांजी से छेड़छाड़ की तहरीर पुलिस में दी थी। इस जंगलराज में कोई भी आमजन खुद को कैसे सुरक्षित महसूस करेगा?

 


 
 
Advertisment
 
Important Links
 
Important RSS Feed
MP Info RSS
Swatantra Khat RSS
 
वीडियो गेलरी




More
 
फोटो गेलरी
More
 
हमारे बारे में हमसे संपर्क करें      विज्ञापन दरें      आपके सुझाव      संस्थान      गोपनीयता और कुकीज नीति    
Copyright © 2011-2020 Swatantra Khat