अगस्त से शुरू हो सकता राम मंदिर निर्माण, प्रधानमंत्री मोदी करेंगे भूमि पूजन की तारीख का ऐलान

अयोध्या। शनिवार,18 जुलाई 2020 उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर बड़ी खबर आ रही है। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की दूसरी बैठक शनिवार को सर्किट हाउस में हुई। बैठक में शामिल होने के लिए ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, कामेश्वर चौपाल, नृत्यगोपाल दास, गोविंद देव गिरी महाराज और दिनेंद्र दास समेत दूसरे ट्रस्टी सर्किट हाउस में मौजूद रहे। बैठक के बाद कामेश्वर चौपाल ने बताया कि तीन और पांच अगस्त की दो तारीखें नींव रखने के लिए प्रधानमंत्री को भेजी गयी हैं। जिस तिथि को वह उपस्थित होंगे, उस दिन मंदिर निर्माण की नींव रखी जायेगी।राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक करीब एक घंटे तक चली। बैठक के बाद श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि बैठक में फैसला किया गया कि मानसून के बाद स्थिति सामान्य होने पर मंदिर निर्माण के लिए वित्तीय सहायता की कवायद शुरू की जायेगी। इसके लिए देश के चार लाख इलाकों के करीब 10 करोड़ परिवारों से संपर्क किया जायेगा।साथ ही उन्होंने बताया कि स्थिति सामान्य होने के बाद, धन एकत्र कर मंदिर निर्माण के लिए सभी ड्राइंग पूरे होने के बाद उम्मीद है कि तीन-साढ़े तीन वर्षों के अंदर मंदिर का निर्माण पूरा किया जायेगा।बता दें कि बीते गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी के पूर्व प्रधान सचिव और मंदिर ट्रस्ट निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा ने अयोध्या का दौरा किया था। उनके साथ बीएसएफ के पूर्व महानिदेशक और राम जन्मभूमि ट्रस्ट के सुरक्षा सलाहकार के.के शर्मा भी थे। इसी दिन नृपेंद्र मिश्र ने सर्किट हाउस में ट्रस्ट के सदस्यों के साथ करीब दो घंटे तक बैठक की थी। उन्होंने कहा था कि मंदिर के डिजाइन और मॉडल पर एक राय होना आवश्यक है जिससे कि इंजीनियर उसे फाइनल रूप दे सकें।

 
 
Advertisment
 
Important Links
 
Important RSS Feed
MP Info RSS
Swatantra Khat RSS
 
वीडियो गेलरी




More
 
फोटो गेलरी
More
 
हमारे बारे में हमसे संपर्क करें      विज्ञापन दरें      आपके सुझाव      संस्थान      गोपनीयता और कुकीज नीति    
Copyright © 2011-2020 Swatantra Khat